Raksha Bandhan Puja Vidhi In Hindi 2021

Raksha Bandhan Puja Vidhi In Hindi 2021


raksha bandhan puja vidhi in hindi


हम यहां पे Raksha Bandhan Puja Vidhi In Hindi 2021 एवं Rakhi Muhurat राखी मंत्र के बारे में जानेंगे। सावन के पूर्णिमा को रक्षाबंधन का त्यौहार मनाया जाता है।


Raksha Bandhan 2021


रक्षाबंधन का त्यौहार सावन शुक्ल पूर्णिमा rakhi purnima पर मनाया जाता है और यह भाई बहन के स्नेह का डोर को और भी मजबूत कर देता है।


सावन के नक्षत्र में रक्षाबंधन का त्यौहार होने से इसका महत्व और भी बढ़ जाता है, तो आइए जानते हैं raksha bandhan puja vidhi 2021 के बारे में विस्तार से।


raksha bandhan puja vidhi in hindi 2021


raksha bandhan puja vidhi के लिए राखी की थाली में रोली, कुमकुम, अक्षत, पीली सरसों के बीज, दीपक और राखी को अच्छा से सजा के रखे‌।


आप भाई के माथे पर रुमाल या गमछा रख के तिलक लगाएं, फिर उनके दाहिने हाथ में रक्षा सूत्र यानी राखी बांधे। राखी बांधने के बाद दीपक वाला थाली से भाई की आरती उतारे।


आप भाई को मिठाई खिलाएं और इसके साथ ही भाई भी बहन को मिठाई खिलाएं, भाई अपने सामर्थ्य के अनुसार बहनों को उपहार एवं सदा स्वस्थ रहने की शुभकामना देते हैं।


साथ ही भाई अपने बहन को जीवन भर उनकी रक्षा एवं सुरक्षा करने का प्रण भी लेते हैं। इस त्यौहार में ब्राह्मण भी अपने यजमान के कलाई पर राखी बांधते हैं।


raksha bandhan muhurat रक्षा सूत्र की पूजा जरूर करना चाहिए एवं रक्षा सूत्र में केसर, सरसों, अक्षत, चंदन एवं दुब भी बांधने का प्रावधान है। भाई एवं बहन दोनों को ही राखी बांधने के बाद ही भोजन करना चाहिए।


रक्षा सूत्र हमेशा दाएं हाथ पर ही बांधा जाता है एवं तब तक उपवास रखते हैं जब तक राखी बांधने का विधि पुरा ना हो जाए, राखी बांध लेने के बाद ही भाई बहन भोजन करते हैं।


ये भी पढ़े Rakhi Gift For Sister रक्षाबंधन पर बहनों के लिए बेस्ट उपहार

रक्षाबंधन त्यौहार में सरकारी प्रबंध


राखी बांधते समय Raksha Bandhan Mantra का जाप


रक्षाबंधन त्यौहार में बहने अपने भाई को राखी बांधते समय निम्नलिखित Raksha Bandhan Mantra का जाप करती हैं।


ॐ येन बद्धो बली राजा दानवेंद्रो महाबलः ।

 तेन त्वामपि बध्नामी रक्षे मा चल मा चल ।


रक्षाबंधन का पौराणिक महत्व


रक्षाबंधन श्रावण शुक्ल पक्ष Rakhi Purnima मे होता है ये पूर्णिमा पंच पर्व में से एक महत्वपूर्ण त्यौहार है, इस त्यौहार का व्रत नहीं रखा जाता है राखी बांधने तक बहने उपवास रखती है।


इस त्यौहार की उत्पत्ति की कहानी सतयुग से ही जुड़ी हुई है। एक ऐसा समय था जब इंद्र दानवो से युद्ध में हारने लगे थे तब उनकी पत्नी इंद्राणी उनके दाहिने कलाई पर रक्षा सूत्र बांधीं थी।


और फिर इसी रक्षा सूत्र के वजह से इंद्र पुणे दानों से युद्ध में विजय प्राप्त किए थे। एक कथा के अनुसार देवासुर संग्राम में देवी भगवती ने देवताओं के कलाई पर राखी बांधी थी।


और तभी से रक्षा सूत्र बांधने का ये परंपरा शुरू हुआ था आगे चलकर कालांतर में यही परंपरा भाई-बहन के पवित्र रिश्ते प्यार और स्नेह को और मजबूत करने के रूप में प्रसिद्ध हुआ।


तो हमने यहां पे raksha bandhan puja vidhi के बारे में जाना मुझे उम्मीद है आपको ये पोस्ट raksha bandhan puja vidhi in hindi 2021 काफी पसंद आया होगा।


अगर आपके मन में रक्षाबंधन त्यौहार से संबंधित किसी भी तरह का सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट करना ना भूले आप सभी को Happy Raksha Bandhan 2021


एक टिप्पणी भेजें

कमेंट करने के लिए धन्यवाद!